IMPS क्या है | जानिए IMPS Full Form, फायदे, उपयोग, महत्व | IMPS की सम्पूर्ण जानकारी

आज हम इस आर्टिकल में IMPS के बारे में सीखेंगे। IMPS क्या है? (What is IMPS in Hindi), IMPS का फुल फॉर्म क्या है? इसके फायदे और महत्व? IMPS कैसे काम करता है? इसका उपयोग क्या है? IMPS का इस्तेमाल कैसे करें? आदि। IMPS की सम्पूर्ण जानकारी आपको इस आर्टिकल में मिल जाएगी। 
imps kya hai, what is imps, imps ka full form, full form of imps

IMPS क्या है?

IMPS, ऑनलाइन पेमेंट का एक फ़ास्ट और सिक्योर मेथड हैं। यह एक बैंकिंग पेमेंट सिस्टम सर्विस हैं, जिसके जरिये रियल टाइम transaction किया जाता है। इसके द्वारा पैसे ट्रान्सफर करने पर तुरंत एक अकाउंट से दुसरे अकाउंट पैसे ट्रान्सफर हो जाता है। 

IMPS को NPCI (National Payments Corporation of India) द्वारा 22 नवम्बर 2010 को शुरू किया गया था। यह एक instant payment इलेक्ट्रॉनिक फंड्स ट्रान्सफर सिस्टम हैं। यह सेवा 20X7, 365 दिन उपलब्ध है, इसके जरिये मोबाइल से पैसे ट्रान्सफर कर सकते हैं। 

आज यह सेवा भारत में बहुत ज्यादा उपयोग में है। ज्यादातर बैंक अपने उपभोक्ताओं को इस सेवा का लाभ प्रदान करते है। जैसे :- भारतीय स्टेट बैंक, बैंक ऑफ़ बड़ोदा, ICICI बैंक, इंडियन बैंक, केनरा बैंक, सेंट्रल बैंक ऑफ़ इंडिया, एक्सिस बैंक, HDFC बैंक, यूनाइटेड बैंक, आदि। 
तत्काल भुगतान सेवा (IMPS) भारत में एक त्वरित भुगतान अंतर-बैंक इलेक्ट्रॉनिक निधि अंतरण प्रणाली हैं। आईएमपीएस, मोबाइल फ़ोन के माध्यम से एक अंतर-बैंक इलेक्ट्रॉनिक फण्ड ट्रान्सफर सेवा प्रदान करता है। यह सवा बैंक की छुट्टियों सहित पूरे वर्ष 24X7 उपलब्ध है। - विकिपीडिया
इसके द्वारा कभी भी, किसी भी समय एक बैंक खाते से दुसरे बैंक खाते में तत्काल पैसे भेजे जा सकते हैं। यह, NPCI द्वारा प्रदान की जाने वाली सेवा है, जिसके माध्यम से तुरंत रियल टाइम में पैसे ट्रान्सफर किये जा सकते हैं। इसके माध्यम से 24X7 कभी भी इन्टरनेट, मोबाइल या एटीएम के द्वारा बैंकिंग सुविधा का लाभ ले सकते है और पैसे ट्रान्सफर कर सकते है। 


IMPS का फुल फॉर्म क्या है?

IMPS का फुल फॉर्म "इमीडियेट पेमेंट सर्विस" होता हैं। 
IMPS - Immediate Payment Service

IMPS Full Form in Hindi

आईएमपीएस का पूरा नाम हिन्दी में "तत्काल भुगतान सेवा" होता हैं। 
आईएमपीएस - तत्काल भुगतान सेवा

IMPS के फायदे क्या है?

  • आईएमपीएस से पैसे real-time में ट्रान्सफर होते हैं। मतलब जैसे पैसे ट्रान्सफर करेंगे, वैसे ही तुरंत सामने वाले के अकाउंट में पैसे पहुँच जायेंगे। 
  • इंटर अकाउंट मनी ट्रान्सफर के लिए ये सबसे तेज़ और विश्वसनीय पेमेंट मेथड हैं। UPI भी इसी प्लेटफार्म पर बनाया गया हैं। - (UPI क्या हैं? इसका इस्तेमाल कैसे करें? यूपीआई की सम्पूर्ण जानकारी।
  • इसके जरिये 24X7 पैसे ट्रान्सफर किये जा सकते हैं। मतलब साल के 365 दिन 24 घंटे पैसे ट्रान्सफर किये जा सकते हैं। 
  • अलग-अलग चैनल के जरिये IMPS किया जा सकता हैं। जैसे :- नेट बैंकिंग, मोबाइल एप्लीकेशन, एसएमएस, एटीएम, यूएसएसडी, आदि। 
  • P2P मनी ट्रान्सफर के अलावा, आईएमपीएस का उपयोग मोबाइल रिचार्ज, DTH रिचार्ज, यात्रा टिकट, यूटिलिटी बिल, ई-कॉमर्स, आदि जैसे पेमेंट्स के लिए भी किया  जाता है। 
  • इसके जरिये 1 रुपए से 2 लाख रुपए तक आसानी से पैसे ट्रान्सफर कर सकते हैं। 
  • ज्यादातर IMPS लेनदेन के लिए 5 रुपए + सर्विस टैक्स लगता हैं। जबकि कुछ बैंक IMPS ट्रान्सफर के लिए कोई शुल्क नहीं लेते हैं। 
  • बिना इन्टरनेट कनेक्शन के भी, SMS या USSD के जरिए से भी इसका उपयोग करके पैसे ट्रान्सफर किये जा सकते हैं। 

IMPS का उपयोग कैसे करें?

IMPS का उपयोग करना बेहद आसान है। इसके लिए आपके पास एक बैंक अकाउंट का होना जरूरी है। आईएमपीएस का उपयोग कई प्लेटफार्म पर किया जा सकता है। जैसे - इन्टरनेट बैंकिंग, मोबाइल बैंकिंग, UPI (Unified Payments Interface), एटीएम, आदि। 

1) Internet Banking

अगर आप इन्टरनेट बैंकिंग के माध्यम से आईएमपीएस का उपयोग करना चाहते हैं, तो इसके लिए आपके बैंक अकाउंट के साथ इन्टरनेट बैंकिंग सुविधा एक्टिवेट हो चाहिए। अगर आपने इन्टरनेट बैंकिंग सुविधा ले रखी हैं, तो आपको एक यूजरनाम पासवर्ड मिलेगा। 

जिसके जरिये आप नेट बैंकिंग में लॉग इन कर पाएंगे। लॉग इन करने के लिए बैंक के अधिकारिक वेबसाइट पर जाए, और इन्टरनेट बैंकिंग के पेज पर जाकर लॉग इन करें। इसके बाद Fund Transfer वाले section में जाएँ, और IMPS विकल्प चुने। उसके बाद जिसे पैसे ट्रान्सफर करना है, उसकी बैंक डिटेल भरे, और पैसे ट्रान्सफर कर दें। 

2) Mobile Banking

मोबाइल बैंकिंग के माध्यम से आईएमपीएस करने के लिए सबसे पहले आपको अपने बैंक अकाउंट के साथ मोबाइल बैंकिंग सुविधा को भी activate करवाना होगा। इसके बाद आपको एक यूजरनाम और पासवर्ड मिलेगा। 

जिसे आपको अपने फ़ोन में लॉग इन करना हैं। लॉग इन करने के बाद फण्ड ट्रान्सफर के विकल्प को चुने और पूछे गए सभी डिटेल्स भरें। इसके बाद सबमिट बटन पर क्लिक करके पैसे ट्रान्सफर कर दें। 

3) UPI (Unified Payment Interface)

UPI के माध्यम से आईएमपीएस करने के लिए आपको सबसे पहले आपको एक स्मार्टफोन, फ़ास्ट स्पीड इन्टरनेट और बैंक अकाउंट से रजिस्टर मोबाइल नंबर की जरूरत पड़ती हैं। इसके बाद अपने फ़ोन में एक UPI एप्प डाउनलोड करें। जो यूपीआई आप आपको पसंद हो, वो आप डाउनलोड कर सकते है। 

अब जरूरी है, कि बैंक अकाउंट से रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर आपके फ़ोन में insert होनी चाहिए। इसके बाद यूपीआई एप्प ओपन करें, मोबाइल नंबर दर्ज कर करे रजिस्ट्रेशन करें। उसके बाद अपना बैंक अकाउंट ऐड करें। बैंक अकाउंट ऐड करने के बाद आप पैसे ट्रान्सफर करने के लिए तैयार हैं। 

UPI एक नई ऑनलाइन पेमेंट्स सिस्टम हैं, जिसे NPCI द्वारा बनाया गया है। UPI, IMPS तकनीक पर आधारित हैं। जो नगत रहित बैंकिंग तथा दुसरे वित्तीय लेनदेन करने की सुविधा प्रदना करता है। इसलिए यूपीआई के माध्यम से जितने भी पेमेंट्स होते हैं, वो सभी IMPS के द्वारा ही होता है। 

IMPS से पैसे कैसे ट्रान्सफर करें?

IMPS के जरिए पैसे ट्रान्सफर करने के बहुत सारे विकल्प मौजूद हैं। आप अपने स्मार्टफोन, बैंक एप्प, इन्टरनेट बैंकिंग, मोबाइल बैंकिंग, एटीएम, आदि के जरिये इमीडियेट पेमेंट सर्विस का उपयोग कर सकते हैं और पैसे ट्रान्सफर कर सकते हैं। इसमें दो तरीकों से पैसे ट्रान्सफर किये जाते हैं। 
  • मोबाइल नंबर के द्वारा पैसे ट्रान्सफर करना (MMID)
  • बैंक अकाउंट नंबर / आईएफएस कोड द्वारा पैसे ट्रान्सफर करना। 

मोबाइल नंबर (MMID) द्वारा पैसे ट्रान्सफर कैसे करें

इसमें बैंक अकाउंट नंबर, आईएफएस कोड, ब्रांच, आदि जानकारी के बिना भी पैसे ट्रान्सफर किये जा सकते हैं। केवल बैंक अकाउंट में रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर के द्वारा सीधे पैसे ट्रान्सफर कर सकते हैं। इसके लिए सबसे पहले यूजर को मोबाइल बैंकिंग activate करवाना होगा, उसके बाद उसे एक MMID कोड मिएगा, जिसके द्वारा आसानी से पैसे ट्रान्सफर किये जा सकते हैं। MMID के जरिये पैसे ट्रान्सफर करने के लिए निम्न स्टेप्स फॉलो करें। 
  • सबसे पहले अपने बैंक के ब्रांच में जाए, और मोबाइल बैंकिंग activate करवाए। 
  • मोबाइल बैंकिंग activate होने के बाद, आपको एक यूजर आईडी, पासवर्ड मिलेगा। 
  • यूजर आईडी, पासवर्ड के जरिये मोबाइल बैंकिंग में लॉग इन करें। 
  • इसके बाद जिसे पैसे ट्रान्सफर करना है, उसकी बैंक डिटेल दर्ज करके उन्हें ऐड करें। 
  • अगर पहले से ऐड है, तो दोबारा ऐड करने की जरूरत नहीं है। लाभार्थी को केवल एक बार ही ऐड करना होता हैं। 
  • लाभार्थी को जोड़ने के बाद, Send Money या Fund Transfer वाले Tab पर क्लिक करें। 
  • उसके बाद IMPS विकल्प पर जायेंग। 
  • इसके बाद लाभार्थी को चुने, जिसे पैसे ट्रान्सफर करना हैं। 
  • उसके बाद लाभार्थी का MMID नंबर दर्ज करें। 
  • अब पैसे दर्ज करें, जितना आप ट्रान्सफर करना चाहते हैं। 
  • इसके बाद सबमिट पर क्लिक करके पैसे ट्रान्सफर कर दीजिये। 

IFSC Code द्वारा पैसे ट्रान्सफर कैसे करें

IFSC कोड के जरिये पैसे ट्रान्सफर करने के लिए सबसे पहले आपको अपने बैंक अकाउंट में इन्टरनेट बैंकिंग या मोबाइल बैंकिंग activate करवाना होगा. उसके बाद आप आसानी से IFSC Code के जरिये IMPS कर सकते है. IFSC कोड के जरिये IMPS से पैसे ट्रान्सफर करने के लिए आपको निचे बताये गए स्टेप्स फॉलो करना होगा.
  • सबसे पहले मोबाइल बैंकिंग या इन्टरनेट बैंकिंग activate करवाए। 
  • Activate होने के बाद, आपको एक यूजर आईडी, पासवर्ड मिलेगा। 
  • यूजर आईडी, पासवर्ड के जरिये लॉग इन करें।
  • अब जिसे पैसे ट्रान्सफर करना है, उसकी बैंक डिटेल जैसे - अकाउंट नंबर, ifsc code, अकाउंट नेम, आदि दर्ज करके उन्हें ऐड करें।
  • अगर पहले से ऐड है, तो दोबारा ऐड करने की जरूरत नहीं है। लाभार्थी को केवल एक बार ही ऐड करना होता हैं। 
  • डिटेल दर्ज करने के बाद, Send Money या Fund Transfer वाले Tab पर क्लिक करें। 
  • उसके बाद IMPS विकल्प को चुने।
  • अब पैसे दर्ज करें, जितना आप ट्रान्सफर करना चाहते हैं।
  • इसके बाद सबमिट पर क्लिक करके पैसे ट्रान्सफर कर दीजिये।

IMPS से कितना पैसे ट्रान्सफर कर सकते है?

IMPS के माध्यम से पैसे ट्रान्सफर करने का एक लिमिट NPCI द्वारा सेट किया गया है। इसके अनुसार आप उस लिमिट से ज्यादा का फण्ड ट्रान्सफर एक दिन (24 घंटे) में नहीं कर सकते। अगर IMPS के माध्यम से आप पैसे ट्रान्सफर करना चाहते है, तो आपको इस बात का खास ध्यान रखना होगा। 

IMPS के माध्यम से पैसे ट्रान्सफर करने की लिमिट कम से कम 1 रुपए और ज्यादा से ज्यादा 2 लाख रुपए तक हैं। यानी एक दिन में आप आईएमपीएस के माध्यम से किसी भी अकाउंट में 1 रुपए से लेकर 2 लाख रुपए तक ट्रान्सफर कर सकते हैं। इससे ज्यादा का ट्रान्सफर आप आईएमपीएस के माध्यम से नहीं कर सकते। 

IMPS के Charges क्या है?

ये एक बेहद जरूरी सवाल है, कि क्या IMPS से पैसे भेजने के चार्जेज भी लगते हैं। ज्यादातर बैंक तो IMPS Fund Transfer के चार्जेज लेते है। पर कुछ बैंक ऐसे भी है, जो यह सेवा मुफ्त अपने उपभोक्ताओं को दे रहें हैं। जैसे कि स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया। भारतीय स्टेट बैंक IMPS के कोई चार्जेज नहीं लेते हैं। 

इसी तरह और भी कई बैंक है जो यह सेवा अपने ग्राहकों को मुफ्त में प्रदान कर रहें हैं। लेकिन ज्यादातर बैंक इसके चार्जेज लेते हैं। और ये चार्जेज हर बैंक के transaction amount के अनुसार अलग अलग होते हैं। 1 रुपए से 10,000 रुपए तक के ट्रान्सफर पर 0.50 पैसे से लाकर 2 रुपए तक चार्जेज लगते है। 

10,001 रुपए से 1,00,000 रुपए तक के ट्रान्सफर पर 2.50 रुपए से लेकर 5 रुपए तक चार्जेज लगते है। इसके अलावा 1,00,001 रुपए से 2,00,000 रुपए तक ट्रान्सफर पर 5.50 रुपए से लेकर 15 रुपए तक चार्जेज लग सकते हैं। यह सभी चार्जेज अगर-अगर बैंक और transaction amount के अनुसार अलग-अलग हो सकते हैं। 
difference between imps, neft and rtgs

IMPS और NEFT में अंतर क्या है?

IMPS NEFT
इसका फुल फॉर्म Immediate Payment Service है। इसका फुल फॉर्म National Electronic Fund Transfer होता है।
इसका प्रबंधन NPCI (National Payments Corporation of India) द्वारा किया जाता है। इसका प्रबंधन RBI (Reserve Bank of India) द्वारा किया जाता है।
IMPS को 22 नवम्बर 2010 को लॉन्च किया गया है। NEFT को नवम्बर 2005 में लॉन्च किया गया है।
इसमें Real-Time में फण्ड ट्रान्सफर किये जाते है। इसमें फण्ड ट्रान्सफर होने में 24 से 48 घंटे लग जाते है।
IMPS 24X7, 365 दिन कार्य करता है। इसके जरिये कभी भी पैसे ट्रान्सफर कर सकते है। बैंक की छुट्टी वाले दिन भी यह उपलब्ध है।  NEFT में पैसे ट्रान्सफर करने के लिए समय सीमा निर्धारित है। ऑनलाइन NEFT तो कभी भी, किसी भी समय कर सकते है, मगर पैसे ट्रान्सफर होने का एक समय सीमा निर्धारित हैं।
इसमें 1 रुपए से लेकर 2 लाख रुपए तक प्रतिदिन लेनदेन की सीमा तय की गयी है। इसमें अधिकतम सीमा बैंक द्वारा तय किया जाता है, इसलिए इसकी अधिकतम सीमा अलग-अलग बैंक में अलग-अलग हो सकती है। NEFT में 1 रुपए से लेकर 10 लाख रुपए तक प्रतिदिन लेनदेन की सीमा तय की गयी है।
इसमें पैसे ट्रान्सफर करने के 1 रुपए से 15 रुपए तक चार्जेज लगते है। चार्जेज बैंक द्वारा निर्धारित किया जाता है, इसलिए अलग-अलग बैंक के अलग-अलग चार्जेज हो सकते है।  इसमें पैसे ट्रान्सफर करने के 1 रुपए से 25 रुपए तक चार्जेज लगते है।

 Read More 

तो दोस्तों, अब आप IMPS के बारे में सब कुछ जान गए होंगे। IMPS क्या है? IMPS कैसे काम करता है? IMPS का फुल फॉर्म क्या है? इसके फायदे और इसका उपयोग क्या है? आदि। उम्मीद करता हूँ कि आपको हमारी ये आर्टिकल जरूर पसंद आई होगी। और हमारे द्वारा बताई गयी सभी बाते आपको समझ में भी आ गयी होंगी। 

अगर आपके मन में अभी भी किसी तरह का कोई सवाल है, तो आप हमसे कमेंट करके पूछ सकते है। कृपया अपना बहुमूल्य सुझाव (Feedback) देकर हमें ये बताने का कष्ट करें कि Tech Hindi Gyan को और भी ज्यादा बेहतर कैसे बनाया जा सकता है। आपका सुझाव इस वेबसाइट को और भी अधिक उद्देश्यपूर्ण और सफल बनाने में सहायक होंगे। 

आर्टिकल पसंद आया हो तो कृपया इस आर्टिकल को अपने सभी दोस्तों के साथ सोशल मीडिया में शेयर करें, और उनकी सहायता करें। इसके अलावा THG को Follow करके सभी नए पोस्ट की जानकारी लगातार प्राप्त कर सकते है। 
Thanks / धन्यवाद 

सम्बंधित पोस्ट :

tech hindi gyan logo

No comments:

We Request to all our Lovely Viewers & Readers, Please do not put any kind of Links in the Comments. Otherwise will not be approved !!!

हम अपने सभी प्यारे दर्शकों और पाठकों से अनुरोध करते हैं, कृपया टिप्पणियों में किसी भी प्रकार के लिंक न डालें। अन्यथा मंजूर नहीं किया जायेगा !!!

Powered by Blogger.